C Language क्या है और कैसे सीखे? – iiTECHNOLOGY

C Language क्या है और C Language कैसे सीखे को ले कर बहुत के मन में बहुत सारे प्रश्न है। यदि आपको एक बढ़िया Software Engineer बनना चाहते हैं तब उसके लिए जो सबसे important बात होती है वो होते है coding।

क्यूंकि technical Interviews में आपको उनके experts theory question के साथ साथ Code लिखने के लिए भी पूछ सकते हैं। ऐसे में अगर आपके पास Programming की ठीक knowledge नहीं होगी तब आप इन interviews में आगे बढ़ नहीं करते हैं।

वैसे प्राय तोर से इन interviews में basic programming language जैसे की C, C++ के संबध में questions पूछे जाते हैं। अब सवाल उठता है की क्या आपको मालूम है की ये C Language क्या है? किसी भी Language सीखने से पहले क्यूँ C programming को सीखने की सलाह दी जाते हैं? इसे कैसे सीखा जाता है? यदि आपके मन में भी ये सभी सवाल उत्पन्न होते हैं तब आपके लिए आज का ये लेख C Programming Language कैसे सीखे बहुत ही informative होने वाला है।

क्यूँ बहुत से लोगों ने खासकर छात्रों ने हमें programming languages के विषय में लिखने के लिए बोला जिसके फलस्वरूप आज मैंने सोचा की क्यूँ न इसकी शुरुवात C Language in Hindi से ही कर दी जाये क्यूंकि सभी Programming Languages का इसे जनक माना जाता है।

यदि आपको भी नहीं पता इसके विषय में और साथ में आप ये भी जानना चाहते हैं की दुसरे modern programming languages के होते हुए भी हमें क्यूँ C language में program कैसे बनाये सीखना चाहिए, तब इस article को अंत तक जरुर पढ़ें।

तो फिर आपके धैर्य की और परीक्षा न लेते हुए चलिए इसकी शुरुवात करते हैं और C programming की basics के विषय में जानते हैं।

सी लैंग्वेज क्या है – What is C Programming Language in Hindi

C एक प्रक्रियात्मक प्रोग्रामिंग भाषा है। इसे शुरूवती दौर में develop किया गया था Dennis Ritchie के द्वारा सन 1969 से 1973 के बीच। इस मुख्य रूप से एक system programming language के तोर पर develop किया गया था, operating system के programs को लिखने के लिए।

बहुत से बाद के languages ने direct तरीके से हो या indirect तरीके से हो C language से कई syntax/features लिया हैं। जैसे की Java, PHP, JavaScript और दुसरे languages के syntax सभी C language के ऊपर ही आधारित होते हैं।

C++ को आप C Language का एक superset कह सकते हैं। ऐसे कुछ programs हैं जो की C में compile होते हैं लेकिन C++ में नहीं।

C Language in Hindi PDF

C Language (C लैंग्वेज) एक general purpose programming language है, जिसका उपयोग कई प्रकार के Applications बनाने में किया जाता है।

C programming के द्वारा हम Windows या iOS जैसे Operating system से लेकर कई प्रकार Software विकसित कर सकते है। यह मशीन स्वतंत्र structured programming language भी है। जिसका अर्थ है, सी लैंग्वेज के programs विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर पर चल सकते है।

क्यूँ C Language को एक professional language के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है?

चलिए उन कारणों के विषय में जानते हैं जिसके कारण की C Language को एक Professional Language के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है।

  • ये बहुत ही Basic Language होने के कारण ही इसे सीखना बहुत ही आसान होता है.
  • ये Language बहुत ही Structured होता है.
  • इसके इस्तमाल से बहुत ही efficient programs लिखा जा सकता है.
  • ये आसानी से बहुत ही low-level activities को handle कर सकता है.
  • साथ ही इसे बहुत से computer platforms में compile किया जा सकता है.

C Programming के ऊपर आधारित पहली Book क्या है?

सन 1978 में, C Programming की सबसे पहली book “The C Programming Language”, को publish किया गया। Book की पहली edition में programmers को Landuage की informal specification के विषय में जानकारी प्रदान की गयी थी।

इसे लिखा है Brian Kernighan और Dennis Ritchie ने, यह book बहुत ही popular बनी C programmers के बीच “K&R” के नाम से।

C Programming Language के Features क्या है?

वैसे तो C Programming Language के बहुत सारे Features हैं लेकिन यहाँ पर हम कुछ महत्वपूर्ण features के विषय में discuss करने वाले हैं।

यह एक Procedural Language होती है

C जैसे procedural languages में, predefined instructions की एक list को step by step follow किया जाता है। एक typical C program में एक या एक से ज्यादा procedures (जिन्हें की functions कहा जाता है) का इस्तमाल किया जाता है एक task को perform करने के लिए।

अगर आप programming में नए हैं, तब आप जरुर सोच रहे होंगे की यही एक तरीका है जैसे सभी programming language काम करते हैं। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है क्यूंकि दुसरे programming paradigms भी होते हैं। एक ऐसा ही commonly इस्तमाल किया जाने वाला paradigm होता है Object-oriented programming (OOP) जो की allow करता है developers को objects create करने के लिए जिससे वो एक given task को solve कर सकें।

C Programs बहुत ही Fast होता है

नए languages जैसे की Python और Java ज्यादा features offer करते हैं (जैसे की garbage collection, dynamic typing) C programming की तुलना में। लेकिन इसमें performance low हो जाती है additional processing के कारण।

C language programmers को allow करती हैं Computer Hardware में direct manipulation करने के लिए। ये ज्यादातर high-level programming languages में मुमकिन नहीं होता है। इसलिए C को एक बेहतर choice माना जाता है programming सीखने के लिए।

Standard C Programs बहुत ही Portable होते हैं?

इनकी एक tag line है जो की होती है “Write once, compile everywhere”। Standard C programs बहुत ही portable होते हैं, इसका मतलब यह है की programs जिन्हें की एक system (उधाहरण के लिए Windows 7) में लिखा गया होता है उसे किसी दुसरे system (Mac OS) में भी compile किया जा सकता है बिना कोई बदलाव किये।

Modularity का इस्तमाल

आप चाहे तो C Code के sections को libraries के form में store कर सकते हैं future use के लिए। इस concept को modularity कहा जाता है।

C अपने आप में ही बहुत कम काम कर सकता है। कहने का तात्पर्य यह है की C language की असली power इसकी stored libraries से आती है। C language में बहुत से standard libraries होते हैं common problems को solve करने के लिए। Suppose की, आपको कुछ display करना है screen में, तब इसके लिए आप अपने program में include कर सकते हैं “stdio.h” library जो की आपको allow करता है printf() function का इस्तमाल करने के लिए।

Statically Typed Language होती है

C एक statically typed language होती है। इसका अर्थ यह हैं की variable की type Compile time में check होती है, न की Run Time में। इससे जो सबसे बड़ा फायेदा होता है वो ये की error detection software development cycle दौरान ही हो जाती है। साथ में statically typed languages बहुत ही faster होती है dynamically typed language की तुलना में in general अगर हम बात करें तब।

बहुत से General Purpose में

माना की C बहुत ही पुरानी language है लेकिन C का इस्तमाल बहुत से applications में होता है चाहे वो system programming हो या photo editing software। चलिए कुछ applications के बारे में जानते हैं जहाँ की C programming का इस्तमाल होता है :

By

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *