दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी
दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी

दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी

0 Shares
0
0
0

दुनिया का सबसे बड़ा Monster। जी हा आप सही पढ़ रहे हैं Titanoboa दुनिया का एक ऐसा Monster था की उसके सामने कोई टिक नहीं सकता था।

जब भी दुनिया के बड़े सांपो का ज़िक्र आता हैं तो दिमाग में एनाकोंडा और पाइथन जैसे विशालकाय अजगर की इमेज उभरती हैं।

मगर यदि में आपसे कहु की सदियों पहले ये धरती एक ऐसे भरी और भीमकाय सांप की साक्षी रह चुकी हैं जिसके आगे ये एनाकोंडा और पाइथन तो दूध पिटे बच्चे हैं। एक ऐसा सांप जो धरती पर रहकर अपने फन से बदल छू सकता हो तो आप क्या कहेंगे।

जी हा में बात कर रहा हूँ Titanoboa नाम के महाविनाशक सांप की।

Titanoboa Snake

दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी
दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी

आज से करीब ६ करोड़ साल पहले जब dianosor का खत्म हुआ तो धरती पर बड़े जानवर की जगह खाली हो गई।

फ़ूड चैन की जगह पूरी करने के लिए किसी को तो आगे आना ही था। ऐसे में मोर्चा सँभालने का समय था Titanoboa का।

दिअनोसॉर की खात्मे के बाद ही Titanoboa अस्तित्व में आये। Titanoboa सांप की फॅमिली से बिलोंग करता हैं।

ये सांप अपने समय का बहुत ही खूंखार और जानलेवा शिकारी माना जाता था। जिसकी दहसत पूरी धरती पर थी।

# Titanoboa धरती पर कब आये थे ?

Titanoboa का उदय dianosor के बाद हुआ यानि dianosors के साथ इनका कोई सम्बन्ध नहीं रहा।

वैज्ञानिक मतों के मुताबिक ये सांप आज से करीब ६ करोड़ साल पहले हुए और करीब ५० लाख साल तक इन्होने धरती पर राज किया।

# Titanoboa कहा रहा करते थे ?

हमने अभी अभी जाना हैं की ये आज के समय के एनाकोंडा के पूर्वज रहे हैं तो जाहिर सी बात हैं जहा आज एनाकोंडा पाए जाते हैं वही इन सांपो का भी बसेरा हुआ करता था। यानि अमेरिका।

धरती के सबसे पहले, सबसे विशाल, सबसे घने और ज्यादा विविधता भरे जंगल अमेज़न को साउथ अमेरिका की शान माना जाता हैं।

इसी जंगल में इन सांपो का बसेरा था और आतंक भी।

# Titanoboa Discover कब हुआ?

विज्ञानं तथ और प्रमाण के आधार पर कायम रहता हैं ऐसे में Titanoboa के अस्तित्व के बारे में प्रमाण भी कही न कही मिले ही होंगे।

जी हा जरूर मिले , साल २००९ में साउथ ईस्ट कोलंबिया में मौजूद सेरेजों फार्मेशन की कोयले की खदानों ने धरती पर कभी रहे इन सांपो की मौजूदगी के प्रमाण दिए।

दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी
दुनिया के सबसे बड़े दानव Titanoboa की कहानी

यहाँ पाए गए फॉसिल्स की शुरुआती जाँच में इन्हे विशालकाय मगर माछ के फॉसिल्स माना गया। मगर फिर माना गया की ये फॉसिल्स मगरमच्छ के नहीं बल्कि सांप के हैं।

और कोई ऐसा वैसा सांप नहीं। दुनिया का सबसे बड़ा Titanoboa।

# Titanoboa की साइज

हम बार बार कह तो रहे हैं Titanoboa दुनिया का सबसे बड़ा सांप था। मगर क्या आपको इसकी साइज का अंदाज़ा हैं ?

goldmines में मिले फॉसिल्स की स्टडी ये Titanoboa की साइज का अनुमान लगाया गया हैं।

ये जानकर आपके होश उड़ जायेंगे की ये सांप करीब करीब १३ मीटर यानि लगभग ४३ फ़ीट लम्बे हुआ करते थे।

आज के समय के एनाकोंडा की साइज १५ से २० फ़ीट होती हैं यानि Titanoboa एनाकोंडा से दोगुने से भी ज्यादा साइज का था।

आज तक का सबसे बड़ा एनाकोंडा भी २९ फ़ीट की लम्बाई का मिल चूका हैं लेकिन फिर भी वो Titanoboa से कई हद तक छोटा हैं।

आप इसी बात से ये अंदाजा लगा सकते हैं की अपने टाइम में Titanoboa की कितनी दहसत हुआ करती होगी।

इनकी चौड़ाई सुनके तो आपके कान खड़े हो जायेंगे। इन सांपो का diameter करीब ३ फ़ीट हुआ करता था।

यानि की एक अंदाज़ा लगाया जाये तो १२ साल का एक बच्चा पूरा का पूरा हॉरिज़ॉन्टली लेट सकता हैं।

वही इनके वजन की बात की जाये तो ये करीब ११३५ kg के हुआ करते थे। यानि आज के एनाकोंडा से लगभग साढ़े चार गुना ज्यादा वजन।

हलाकि कुछ वैज्ञानिको का ये मानना भी हैं की सांपो के फॉसिल्स मिलना बहुत ही मुश्किल होता हैं।

इससे ये लग रहा हैं की Titanoboa इस आनुमानिक साइज से भी बड़ा हो। भगवन का शुक्र हैं की ये सांप अभी जीवित नहीं हैं

दुनिया के सबसे खतरनाक जीव के बारे में जाने:- https://iitechnology.in/top-10-most-dangerous-creatures-in-the-world-in-hindi/

# Titanoboa का पानी से प्यार

हो सकता हैं की इतनी बड़ी साइज के बहुत से फायदे होते हो मगर कुछ नुकसान भी तो होते ही हैं।

माना जाता हैं की Titanoboa को अपनी बड़ी साइज से ज़मीन पर चलने में या मूव करने में बहुत प्रॉब्लम हुआ करती थी इसलिए वो अक्सर पानी में किसी दलदल या नदी के अंदर ही ज्यादातर वक़्त बिताते थे।

यहाँ उन्हें एक जगह से दूसरी जगह मूव करने में आसानी होती थी। आज Titanoboa के वंशज कहे जाने वाले एनाकोंडा में भी ये आदत देखि जाती हैं।

एनाकोंडा भी अपना ज्यादातर वक़्त  पानी में ही पड़े पड़े बिताते हैं।

# Titanoboa की Hunting Techniques

ये एनाकोंडा और पाइथन की तरह ही बिना ज़हर वाले सांप हैं इसलिए इसकी शिकार करने की स्टाइल इन सांपो से बहुत हद तक मिलती जुलती हैं।

ये सांप पानी में और पेड़ पौधों के बिच खुद को छिपा लेते थे ताकि इनका शिकार इनको देख न सके और मौका मिलते ही ये अपने शिकार पर जपत पड़ते थे।

इस जपपाते में इनका ये जबड़ा और विशालकाय दन्त बहुत ही कारगर होते थे।

शिकार को पकड़ने के बाद ये उसके चारो तरफ पूरी तरह से लिपट जाते थे और उसे पूरी ताकत से दबा देते थे।

ये दबाव लगभग ४०० psi के आसपास  होता था। इतना दबाव किसी भी जानवर की हड्डी का पाउडर बनाने के लिए काफी हैं।

ये शिकार को तब तक दबा कर रखते हैं जब तक शिकार की दम घुट जान न निकल जाये। जब शिकार सांस लेना बंध कर देता था तब ये अपना बड़ा सा जबड़ा खोल कर उसे पूरा का पूरा निगल जाते थे।

मॉडर्न डे के एनाकोंडा भी शिकार का यही तरीका अपनाते हैं।

# Titanoboa का डाइट

जितना बड़ा इस सांप का आकार हैं उस हिसाब से ज़ाहिर हैं इसकी डाइट भी बहुत ज्यादा होगी।

जैसे की हमने बात की ये सांप ज्यादातर वक़्त पानी में ही बिताते थे ऐसे में इनके शिकार भी पानी वाले जीव ही हुआ करते थे।

बड़ी मछली और मगरमच्छ जैसे जीव इनका शिकार हुआ करते थे।

# Titanoboa इतना बड़ा कैसे था ?

जैसा की हम जानते हैं कोल्ड ब्लडेड क्रीचर्स की एक्टिविटी माहौल पर निर्भर करती हैं। दरअसल ऐसे जीव अपने शरीर के तापमान को कण्ट्रोल नहीं क्र सकते।

यानि बहार का तापमान ज्यादा हैं तो इनका शरीर गर्म होने लगता हैं और अगर बहार का तापमान काम हैं तो इनका शरीर ठंडा होने लगता हैं।

इसलिए धरती के जिन हिस्सों में तापमान ज्यादा होता हैं वह पाए जाने वाले कोल्ड ब्लडेड क्रीचर्स की साइज भी ज्यादा होती हैं और वो एक्टिव भी होते हैं।

अगर हम इसे धरती के एक लोब से समझने की कोशिश करे तो आप देखेंगे की ज्यादा तापमान वाली जगह पे बड़े जीव रहते हैं।

जब पहले के समय तापमान ज्यादा हुआ करता था तब ये जीव ज्यादा विकसित हुआ करते थे इसमें Titanoboa भी एक था।

वैज्ञानिको के मुताबिक इस समय में अमेज़न जंगल का तापमान ३२ से ३५ डिग्री तक हुआ करता था।

तो आज के तापमान से १० डिग्री तक ज्यादा हुआ करता था।

यानि Titanoboa अमेज़न का मौसम ग्रो करने के लिए सबसे मुफीद था और इसलिए वो बढ़ता ही रहा।

बाद में वो भयानक दानव के रूप में तब्दील हो गया।

# कैसे Titanoboa ख़त्म हो गया ?

अगर ये सांप इतना बड़ा था तो ज़ाहिर हैं की इसे कोई हरा तो नहीं सकता था , न कोई इसका शिकार कर सकता था।

ऐसे में सवाल उठता हैं की फिर ऐसा क्या हुआ की ये सांप लुप्त हो गया।

वैज्ञानिक इनके कई कारन मानते हैं मगर उन सब में सबसे मुख्या कारन क्लाइमेट चेंज ही हैं।

धरती समय के साथ धीरे धीरे ठंडी हो रही थी और गिरते तापमान के साथ ये सांप एडजस्ट नहीं कर पाए।

बहदति ठण्ड इस सांप की सबसे बड़ी समस्या बन गई और धीरे धीरे Titanoboa का अस्तित्व इतिहास में विलीन हो गया।

हलाकि कुछ वैज्ञानिको के द्वारा सुजाये गए थ्योरी के मुताबिक इस बात की आशंका जताई जाती हैं की Titanoboa और ऐसे दूसरे जीव का फिर से उदय हो सकता हैं।

क्यूंकि ग्लोबल वार्मिंग की वजह से धरती का तापमान फिर से एक बार बढ़ रहा हैं। अगर तापमान इसी तरह से बढ़ता रहा तो मौजूदा जीव की साइज भी बढ़ती जाएगी।

और हो सकता हैं की दुनिया Titanoboa का कमबैक देख सके।

दुनिया का सबसे बड़ा सांप कोनसा हैं ?

TITANOBOA

एनाकोंडा से भी बड़ा सांप कौन सा है?

TITANOBOA

एनाकोंडा की तुलना में TITANOBOA कितना बड़ा हैं?

साइज की बात करे तो TITANOBOA एनाकोंडा से ३ गुना ज्यादा लम्बा हुआ करता था। जिसके सामने एनाकोंडा दूध पिता बच्चा लग सकता हैं।

तो दोस्तों ये थी Titanoboa के बारे में जानकारी। अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो कमेंट जरूर करे।

0 Shares
2 comments
Leave a Reply

Your email address will not be published.

You May Also Like